Edtech startup in hindi

Edtech startup in hindi आज भारत पूरे विश्व में शिक्षा से जुड़े स्टार्टप्स में दूसरे स्थान पर है

आज मैं इस लेख के द्वारा आपको ये बताने का प्रयास करुंगा कि शिक्षा के जगत से जुड़े स्टार्टअप्स का हमारे देश में क्या असर है और ऐसे स्टार्टअप्स कितने कामयाब है

Edtech startups का इतिहास

आपने Startups (उद्यम) के बारे में तो बहुत सुना है पर Startups भी बहुत से प्रकार के होतें है

जिनमे edutech startup भी एक है आइये जानते है edutech startups का इतिहास

जबसे computer का आविष्कार हुआ है हमेशा से कोशिश रही है कि इसका उपयोग सभी चीजों में किया जाए

जिससे कि जिस काम को हम कर रहे है वो काम और भी जल्दी ओर आसानी से किया जा सके 

प्रारम्भ मैं कंप्यूटर को एक पुस्तकालय के रूप में उपयोग किया जाता था जिसमे पढ़ाई की आवश्यक सामग्रियां सहेज कर रखी जाती थी

जिससे कि छात्रों को उनके पढ़ाई में कोई असुबिधा न हो 

समय के साथ इंटरनेट सेवा का प्रसार ओर हर हाथों में मोबाइल आने से उद्यमियों को आइडिया आया कि

क्यों न पूरे पढ़ाई को ही ऑनलाइन कर दिया जाए 

इसी आइडिया के आधार पर शिक्षा उद्यम की शुरुवात हुई और आज पूरे विश्व में शिक्षा जगत से जुड़ी स्टार्टअप की भरमार है

और ये छेत्र साल दर साल उन्नति के रास्ते पर है खासकर हमारे भारत वर्ष में

भारत में इस वक्त Edutech startups की बहुत चर्चा है और हो भी क्यों ना यह ऐसी इंडस्ट्री है जो पूरे विश्व में धमाल मचाई हुई है

खासकर भारत में 

भारत के edutech स्टार्टअप   इंडस्ट्री विश्व में अमेरिका के बाद दूसरे स्थान पर है

अनुमान यह लगाया जा रहा है कि 2022 तक यह  क्षेत्र  4 बिलियन  डॉलर तक का हो जाएगा।

Edtech startup meaning in hindi

online classes

Education  और  technology  इन दोनों को मिला कर बना है Edtech  

ऐसे उद्यम जो शिक्षा और तकनीकी दोनों को मिलाकर  किया गया हो उन्हें हम Edutech startup शिक्षा उद्यम कहते हैं 

क्यूँ जरुरी है Edtech startups

Edtech startup in hindi लेख के माध्यम से मै आपको बताने का प्रयास करूँगा की क्यूँ जरुरी है  Edtech startups

समय के साथ हर चीज में बदलाव जरुरी होता है,

हमारे देश की शिक्षा पद्धति वर्षो से एक जैसी ही चली आ रही थी 

वही दूसरी तरफ दुनिया के बाकी देश अपनी शिक्षा पद्धति में बदलाव के साथ साथ नई तकनीकी का सहारा भी ले रही है

जिसके कारण वहां  के छात्रों में तकनीकी के साथ तालमेल ओर नए नए चीजों को सीखने और अपनाने में कोई दिक्कत नही होती

सरकार द्वारा छात्रों को सही शिक्षा समाधान ना मिलने के कारण शिक्षा से जुड़ी Edutech startups की जरूरत पड़ती है।

भारत में Edtech startups

आज का भारत युवा भारत है लगभग 60% की जनसंख्या भारत में युवा है

आज हर युवा अपने भविष्य को मजबूत बनाने के लिए ज्यादा से ज्यादा ओर जल्दी पढ़ना चाहता है

कोरोना के वजह से स्कूल कॉलेज की पढ़ाई अब मोबाइल फ़ोन पर हो रही है

जिसका फायदा कई सारे Edtech startups उठा रहे है 

ये स्टार्टअप्स अपने तकनीकी के सहारे देश के युवा को अपने साथ जोड़ कर उन्हें सही शिक्षा पाने में मदद कर रहे है

जिससे की आगे चलकर छात्रों को अपने भविष्य का सही चयन करने में कोई असुविधा का सामना न करना पड़े।

भारत में 2020 तक 4450 Edtech startups हो चुकें है जिनमे तक़रीबन 30 से 35 ऐसे Edtech startups है

जिनमे अधिक से अधिक Funding हुई है जिसके कारण भारत के Edtech industry में इन्ही का नाम अधिक सुना जाता है.

जिनमे  BYJU’S,Kutuki,PlayShifu,Kiddopia,TinyTapps,unacadmy इत्यादि है

निष्कर्ष=Edtech startup in hindi में मैंने आपको  Edtech startup के बारें में बताया है 

आने वाला भविष्य Edtech startups का है  उम्मीद है आपको ये लेख पसंद आई होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *